रविवार, 13 फ़रवरी 2011

वेलेंटाइन डे पर आप सभी को ढेर सारी शुभकामनाएं



प्रेम शाश्वत है इश्वर है एक मधुर रिश्ता है जो लोगों को बाँध कर  रखता है . यही वो परिभाषा  है जो अपनत्व की कसौटी पर  खरी उतरती है ,हम सभी को और ख़ास तौर  पर दो युवा दिलों को नजदीक लाती है प्रेम,प्यार और चाहत यह वो शब्द  हैं जिनसे यह जीवन समरस हो चला है तभी तो कहा जाता है के--- प्यार के रंग से तू दिल को सजाये रखना हो सके तो इस जहाँ में किसी को तो अपना बनाये रखना 
शिखर आकाश 
सम्पादक 




कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

समर्थक