बुधवार, 15 फ़रवरी 2012

  •                                                      ये है कोंन....?
  • मथुरा ! भारतीय जनता पार्टी ने आर.एस.एस. के दबाब में सारे दिग्गजों को दरकिनार कर संघ के लाडले देवेन्द्र कुमार शर्मा को मथुरा -वृन्दावन विधान सभा से भाजपा की टिकट दे चुनाव मैदान में उतरा है ! वही मथुरा वृन्दावन की आम जनता पूछ रही है कि ये है कोंन..? 
  •                      मथुरा सीट पर भाजपा से चुनाव लड़ रहे देवेन्द्र कुमार शर्मा का व्यहवारिक व सामाजिक तोंर पर सामाजिकता से कोई आज तक सरोकार नहीं  रहा  एसे में मथुरा  सीट  भाजपा जेसी पार्टी से चुनाव लड़ना ये बड़ी बात है हलाकि भाजपा गत दो चुनावो से मथुरा सीट को गवाती चली आई है 
  • इस बार 
  • भी सही विकल्प  chunne में भाजपा गचा खा गई संघ के दबाब में देवेन्द्र को भाजपा से मथुरा सीट भले ही मिल गयी हो पर सामाजिक सरोकार न रहने के करण विधान सभा छेत्र की जनता बार बार पूछ  रही है की ये देवेन्द्र है कोंन...?
  • ऐसे में संघ व भाजपा के नेता व कार्यकर्ताओ को आम जनता से सम्पर्क कराने में बड़ी दिक्कते सामने आ रही है ! जनता के बीच देवेन्द्र की कोई सामाजिक सरोकार रहा न ही सामाजिक छेत्र में कोई कार्य या योगदान जिससे ये जनता के बीच चर्चित होते ऐसा कुछ  भी नहीं है भाजपा के कुछ लोगो का दबी जुबान में ये कहना है कि देवेन्द्र द्वारा वर्षो से संघ जुड़ा होना उनकी मीटिग कार्यक्रमों में फर्श उठाना व बिछाना ही इनक्नी पहचान रही है यही वजह है और टिकट के रूप में प्रतिफल है मथुरा सीट पर संघ के दबाब भाजपा ने टिकट  तो दे दी पर पहचान कहा से दे ! संघ व भाजपा के लोग देवेन्द्र का जगह -जगह जनसंपर्क भूल इनके जीवन सम्पर्क से जन जन को अवगत करना पड़ रहा है संघ को लेकर ये कहावत चर्तार्थ हो रही कि "चोर की मारी चुप्प करे मत हल्ला '' संघ ने टिकट तो दबाब में दिलवा दिया दिग्गजों को दरकिनार भी कर दिया पर ये किसी को पता नहीं था किजिसको हम मथुरा जेसी प्रतिश्तापूर्ण सीट पर चुनाव लडवा रहे है उसका सामाजिकता  दूर-दूर तक सरोकार ही नहीं रहा है !
  • अब संघ नेता व कार्यकर्ता अपनी अक्छ्मता को छुपाने के लिए पहचान्नुमा सम्पर्क कृते हुए घूम रहे है संघटन हित में किये कार्यो को भी बता रहे है पर जनता को उससे क्या लेना क्या देना जनता को चाहिए सामाजिक व्यक्ति वहराल नेता व कार्यकर्ता को जो दिक्कते आ रही है  कि आम जनता पूछ रही है__कि__ये है कोंन....?
  •                                                                                   नरेन्द्र एम.चतुर्वेदी - http://samaysapeksh.com/ 

























































































   

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

समर्थक