मंगलवार, 12 जनवरी 2010

वेब की दुनिया में दोस्तों की खरीद-बिक्री षुरू


लंदन। अभी तक तो लोग कामुक बातें करने के लिए 'दोस्त' बनाते थे और इसके लिए टेलीफोन लाइनों और अंतरराष्ट्रीय वेबसाइटों पर पैसा खर्च करते थे। लेकिन अब बात सामान्य दोस्तों की लंबी सूची रखने के फैशन तक आ गई है। ..और लोग इसके लिए धन देने में नहीं हिचकिचा रहे।सोशल नेटवर्किंग साइट पर खुद को लोकप्रिय दिखाने का यह नया हथकंडा है। लोकप्रियता पाने और अकेलापन दूर करने के लिए ब्रिटेन वासी आनलाइन दोस्तों की खूब खरीद फरोख्त कर रहे हैं। ट्विटर और फेसबुक जैसी सोशल नेटवर्किंग साइट पर एक हजार लोगों का संपर्क पाने के लिए लोग बेहिचक 125 पाउंड [करीब नौ हजार रुपये] खर्च कर रहे हैं।ऐसे लोगों की सूची को बेचने का काम करने वाली कंपनी यूसोशल की रिपोर्ट के मुताबिक क्रिसमस और नए साल के अवसर पर भारी संख्या में लोगों ने उससे संपर्क साधा। पैसा देकर दोस्त पाने वाले, 24 वर्षीय बास लियान के अनुसार, 'चैट करने के लिए लोग दोस्तों की सूची खरीद रहे हैं, ताकि वह अकेलापन दूर कर सकें। अगर आप लोकप्रिय नहीं होंगे, तो इन साइट पर आपको कोई पूछेगा नहीं।'आस्ट्रेलिया में इस तरह की खरीददारी पर रोक लगाने के लिए फेसबुक के वकील ने इस योजना को बंद कराने की कोशिश की थी। उनका कहना है इससे आस्ट्रेलियाई नियम और कानूनों का उल्लंघन होता है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

समर्थक

ब्लॉग आर्काइव