बुधवार, 27 जनवरी 2010

अमर के बाद की सपा का खाका तैयार


नई दिल्ली [राजकेश्वर सिंह]। अमर सिंह के इस्तीफे की मंजूरी के बाद सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव ने पार्टी का नया खाका तैयार कर लिया है। अमर सिंह से खाली हुए पदों को बुधवार को भरा जा सकता है। वरिष्ठ समाजवादी और राज्यसभा में पार्टी के नेता जनेश्वर मिश्र के निधन से खाली पदों को भी भरने की तैयारी है। पार्टी का नया एजेंडा गांव, गरीब व पिछड़ों के बीच जाने का है।

सूत्रों के मुताबिक अमर प्रकरण के बाद मुलायम सिंह ने 'भविष्य की सपा' का नया खाका तैयार कर लिया है। पार्टी में माना जा रहा है कि महासचिव, प्रवक्ता और संसदीय बोर्ड के सदस्य पद से इस्तीफा और उनकी मंजूरी के बाद अमर जिस तरह सपा की नीतियों पर हमले कर रहे हैं, उससे साफ है कि पार्टी में अब उनकी रुचि नहीं बची है। बताते हैं कि इन्हीं निष्कर्षों पर पहुंचने के बाद पार्टी प्रमुख ने अमर की जगह पार्टी के नए महासचिव व प्रवक्ता को बनाने का फैसला कर लिया है। बुधवार को इन पदों पर किसी पुराने समाजवादी व पूर्व सांसद के नाम का ऐलान हो सकता है।

बताते हैं कि बदली परिस्थितियों में भी पार्टी ने सभी वर्गो को साथ लेकर चलने की रणनीति बनाई है। पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जनेश्वर मिश्र के निधन से सपा ने अपने सबसे पुराने समाजवादी को खो दिया है। उनके कद की भरपाई आसान नहीं है लेकिन बुधवार को सपा के नए राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व राज्यसभा में सपा संसदीय दल के नेता के नाम की भी घोषणा हो सकती है।

पार्टी के उच्चपदस्थ सूत्रों की मानें तो सपा ने पिछड़ों और अति पिछड़ों के बीच जाने का नया कार्यक्रम भी बनाना शुरू कर दिया है। आने वाले महीनों में इन वर्गो का लखनऊ में एक सम्मेलन भी कराने की योजना है। जबकि उससे पहले पार्टी के क्षेत्रीय व जिलाध्यक्षों और अनुषांगिक संगठनों के पदाधिकारियों की लखनऊ में बैठक बुलाकर उत्तर प्रदेश की मायावती सरकार को हर मामले में घेरने की हिदायत दी जा सकती है। बताते हैं कि आंदोलन खड़ा करने के मद्देनजर थाना, तहसील और जिला स्तर पर पदाधिकारियों को घेराव व प्रदर्शन का एजेंडा दिया जाएगा। पार्टी में उनकी हैसियत का आकलन भी इन्हीं प्रदर्शनों के नतीजों के आधार पर किया जाएगा।
जागरण डाटकाम

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

समर्थक

ब्लॉग आर्काइव