गुरुवार, 21 जनवरी 2010

मायावती ने कहा- पवार को हटाओ, अन्यथा

उत्तरप्रदेश की मुख्यमंत्री मायावती ने बुधवार को चेतावनी दी कि केन्द्रीय कृषिमंत्री शरद पवार को अगर उनके पद से नहीं हटाया गया तो वे महँगाई के मुद्दे पर दिल्ली 27 जनवरी को होने वाली राज्यों के मुख्यमंत्रियों की बैठक में भाग नहीं लेंगी।

मायावती ने प्रधानमंत्री मनमोहनसिंह से आग्रह किया कि पवार को उनके पद से हटा दिया जाए क्योंकि चीनी और फिर दूध के बारे में दिए उनके बयानों से जमाखोरों और कालाबाजारियों को शह मिली है और महँगाई बढ़ी है।

मायावती ने तेजी से बढती महंगाई की चर्चा करते हुए पवार को हटाए जाने की माँग की। उन्होंने कहा कि पवार के बयानों से ही महँगाई बढ़ रही है।

मुख्यमंत्री ने महाराष्ट्र की कांग्रेस-राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की सरकार के उस फैसले की आलोचना की जिसमें तय किया गया है कि नई टैक्सियों के लिए लाइसेंस केवल उन्हीं लोगों को दिया जाएगा, जिनको मराठी की बहुत अच्छी जानकारी है और जो कम से कम 15 साल से राज्य में रह रहे हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

समर्थक

ब्लॉग आर्काइव