शनिवार, 5 दिसंबर 2009

लुधियाना में जन जीवन अस्त-व्यस्त चार स्थानों में कर्फ्यू



लुधियाना।मजदूरों के विरोध का सामना कर रहे लुधियाना शहर को एक अन्य मामले में भी हिंसा का सामना करना पड़ा। शनिवार को सशस्त्र प्रदर्शनकारियों पर पुलिस द्वारा की गई गोलीबारी में चार लोगों की मौत हो गई, जबकि करीब 13 लोग घायल हो गए।प्राप्त जानकारी के मुताबिक 5 और 6 दिसंबर को दिव्य ज्योति जागरण संस्थान के आशुतोष महाराज का समागन होना था, जिसका कुछ कट्‍टरपंथी सिख विरोध कर रहे थे। सशस्त्र प्रदर्शनकारियों की बेकाबू भीड़ को काबू करने के लिए पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी, जिसमें दमदमी टकसाल के तीन लोगों की मौत हो गई, जबकि बीबीसी के मुताबिक मृतक संख्‍या चार बताई गई है।घटना के बाद शहर के आठ थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लगा दिया है साथ ही किसी भी अप्रिय स्थिति से बचने के लिए पूरे शहर के बाजारों को बंद करवा दिया गया है। उल्लेखनीय है कि सिख स्टूडेंट फेडरेशन (ग्रेवाल) ने भी आशुतोष महाराज के आयोजन का पूर्व में भी विरोध , किया पुलिस गोलीबारी में तीन लोगों के मारे जाने के विरोध में सिख समुदाय ने छह दिसंबर को लुधियाना बंद का आह्वान किया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

समर्थक

ब्लॉग आर्काइव