मंगलवार, 8 दिसंबर 2009

पंजाब विधानसभा अकाली-भाजपा और विपक्षी कांग्रेस सदस्यों में हाथापाई



चंडीगढ़, मंगलवार, 8 दिसंबर पंजाब विधानसभा के शीतकालीन सत्र के दूसरे दिन आज उस समय सत्तारूढ़ अकाली-भाजपा और विपक्षी कांग्रेस सदस्यों के बीच हाथापाई हो गई, जब उपमुख्यमंत्री सुखबीरसिंह बादल लुधियाना हिंसा समेत राज्य की कानून व्यवस्था पर बयान दे रहे थे।इसके बाद सदन के अस्थायी अध्यक्ष निर्मलसिंह ने सदन की बैठक को एक घंटे के लिए स्थगित कर दिया। गृह मंत्रालय का भी जिम्मा संभालने वाले बादल ने सदन में जब कानून व्यवस्था, खासकर लुधियाना में शनिवार को हुई हिंसा पर जैसे ही बोलना शुरू किया, कांग्रेस सदस्यों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी।इसके बाद कांग्रेस सदस्यों ने अध्यक्ष के आसन की ओर जाने की जबरन कोशिश की, लेकिन मार्शल द्वारा रोके जाने के बाद वे मुख्यमंत्री प्रकाशसिंह बादल की सीट की तरफ बढ़ने लगे।विपक्षी सदस्यों को बादल की सीट की तरफ बढ़ते देखकर शिरोमणि अकाली दल के सदस्य वहाँ आ गए और उसके बाद कांग्रेस विधायकों के साथ उनकी हाथापाई शुरू हो गई।अध्यक्ष के आसन के निकट हंगामा होने और स्थिति को बिगड़ते देख अध्यक्ष ने सदन को स्थगित कर दिया। सदन को स्थगित जानकर कांग्रेस सदस्य विधानसभा के रिपोर्टिंग स्टॉफ की टेबल पर चढ़ गए और सरकार विरोधी नारे लगाने लगे। (भाषा)

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

समर्थक

ब्लॉग आर्काइव