रविवार, 6 दिसंबर 2009

बाबरी विध्वंस पर माफी नहीं माँगेंगे-भागवत


अयोध्या में 17 वर्ष पूर्व बाबरी मस्जिद के गिराए जाने के बाद राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघ चालक मोहन भागवत ने शनिवार को कहा कि उस दिन जो कुछ भी हुआ, उस पर संघ के माफी माँगने का सवाल ही नहीं उठता।भागवत ने राम मंदिर आंदोलन को जारी रखे जाने के मुद्दे को भी अपना समर्थन दिया। भागवत ने कहा कि ढाँचे को गिराने के पीछे कोई षड्यंत्र नहीं था, बल्कि यह संवेदनाओं और भावनाओं के स्तर पर छले गए कारसेवकों द्वारा किया गया तत्काल निर्णय था।उन्होंने कहा कि जो भी कुछ हुआ, वह राम मंदिर के निर्माण के आंदोलन से जुड़ा हुआ है। कारसेवकों की संवेदनाओं के साथ छेड़छाड़ हुआ है, जिसमें कुछ मुसलमान भी शामिल हैं। इसलिए संघ का माफी माँगने का कोई सवाल ही नहीं उठता।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

समर्थक

ब्लॉग आर्काइव